Wednesday, June 29

इन देश के टॉप 5 बोर्डिंग स्कूलों में एडमिशन के लिए लगती है लंबी लंबी लाइनें, जानिए

[ad_1]

एक बोर्डिंग स्कूल में अपने बच्चे को भेजना हर माता-पिता के जीवन का सबसे बड़ा सपना ही होता है। इसके साथ ही उतना ही कठिन एक अच्छा बोर्डिंग स्कूल ढूंढना होता है जो कि आपके बच्चे के अकादमिक और सामाजिक विकास दोनों को एक साथ निखारें। भारत की बात की जाए तो देश में लंबे समय से बोर्डिंग स्‍कूलों का प्रचलन रहा है। इसकी नींव अंग्रेजों के दौर में पड़ी। हालांकि इससे पहले गुरुकुल के दौर में स्‍कूल एक तरह से बोर्डिंग सिस्‍टम वाले थे। आज हम यहां आपको बताने जा रहे हैं देश के सबसे प्रतिष्ठित बोर्डिंग स्कूलों के बारे में जिनमें एडमिशन लेना बहुत कठिन हैं। एक बोर्डिंग स्कूल ही दुनिया का ऐसा हिस्सा होता है जहां विभिन्न हिस्सों से बच्चे आकर एक जगह पर मिलते हैं। बच्चे के जीवन में विभिन्न क्षेत्रों से आएं दूसरे बच्चों से मिलना एक अलग ही अनुभव दे जाता है। दून स्कूल, हैदराबाद- 1935 में स्थापित दून स्कूल देश के सबसे प्रतिष्ठित स्कूलों में से एक है। 70 एकड़ के कैंपस में फैला यह स्कूल एकमात्र आवासीय स्कूल है। इस स्कूल में कई अतिरिक्त गतिविधियों पर भी फोकस किया जाता है जो कि छात्रों को स्कूल से परे जीवन को विकसित और बनाए रखने के लिए प्रोत्साहित करता है। IAS ऑफिसर को सैलरी के अलावा मिलती है इतनी सारी सुविधाएं सेंट पॉल्स स्कूल, दार्जिलिंग- सेंट पॉल्स स्कूल, दार्जिलिंग में बना यह स्कूल सिर्फ लड़कों के लिए ही है जिसे 1823 में स्थापित किया गया था। स्कूल बौद्धिक, नैतिक और शैक्षणिक विकास के लिए दी जाने वाली शिक्षा पर केंद्रित है। सावधान! अगर बॉस से कही ये 5 बातें तो हाथ से जा सकती है नौकरी, तुरंत जान लें मायो कॉलेज, अजमेर- यह 1875 में स्थापित हुआ बोर्डिंग स्कूल है और देश के सबसे पुराने पब्लिक स्कूलों में से एक है। इसे “ईटन ऑफ इंडिया” भी कहा जाता है। छात्रों के विकास के लिए इसमें 18 अलग-अलग तरह के कोर्स हैं। बिशप कॉटन स्कूल, शिमला- बिशप कॉटन स्कूल, शिमला, 1859 में स्थापित लड़कों के लिए बना एक बोर्डिंग स्कूल है। यह 56 एकड़ के कैंपस में फैला हुआ है। स्कूल का मिशन लड़कों को सशक्त बनाने और देश में सकारात्मक योगदान देने के लिए शिक्षा के उच्चतम स्तर को हासिल करना और बनाए रखना है। घर बैठे भी आसानी से कर सकते हैं IAS परीक्षा की तैयारी, बस अपनाएं ये टिप्स डेली कॉलेज, इंदौर- डेली कॉलेज 1870 में सर हेनरी डेली द्वारा स्थापित किया गया था। इसका कैंपस में दो आर्टिफिशयल झील के साथ यह 118 एकड़ में फैला हुआ है। स्कूल देश के सबसे प्रतिष्ठित स्कूलों में से एक माना जाता रहा है। इसमें एक मंदिर, मस्जिद और एक अस्पताल भी है।