इस दिवाली पर तरह-तरह के रंगोलियां से सजाएं अपना घर

प्राचीन समय में घर को सजाने और उत्‍सव मनाने के लिए रंगोली बनाई जाती थी। उस समय पर लोग अपने घरों के दरवाज़े पर रोज़ चावल के आटे से रंगोली बनाया करते थे। पारम्परिक तरीके से घर को सजाने का ये तरीका बहुत ही खूबसूरतहै।  आईये कुछ टिप्स आपको ऐसी ही रंगोलियों के बारे में बताते है……

एब्‍सट्रैक्‍ट रंगोली
इस तरह की रंगोली में चमकीले रंगों से अनोखा डिजाइन बनाया जाता है। एक बड़ा सा फूल और उसके आसपास चमकीले रंग किसी को भी आकर्षित कर सकते हैं।

फूलों से बनी रंगोली
इसके अलावा फूलों की रंगोली भी बना सकते है। बाज़ार में कई रंगों के फूल मिलते हैं जिनसे आप आसानी से पैटर्न बना सकते हैं। अलग-अलग फूलों से काफी सुंदर रंगोली बनाई जा सकती है।

ज्‍योमितीय रंगोली
ये डिजाइन काफी आकर्षित लगता है। इसमें रेखाओं और ज्‍यामितीय डिजाइन से रंगोली बनाई जाती है। इसमें आप दीये का प्रयोग भी कर सकते हैं।

चावलों से बनी रंगोली
कच्‍चे चावलों को रंग में मिलाकर आप ये रंगोली बना सकते हैं। चावलों को काफी शुभ माना जाता है इसलिए त्‍योहारों पर इसका प्रयोग शुभता को और बढ़ा देता है। इस रंगोली में आप चावलों से गणेश जी की तस्‍वीर बना सकते हैं।

मोर की रंगोली
हिंदू धर्म में मोर को अत्‍यंत शुभ माना गया है। साथ ही दीवाली पर मोर के डिजाइन भी बहुत लोकप्रिय रहते हैं। चमकीले रंगों और ज्‍यामितीय डिजाइन से आप मोर का डिजाइन बना सकते हैं।

maalaxmi