Wednesday, June 29

उन्नाव रेप पीड़िता के परिवार की चीखों से रात में उदास था पूरा गांव, देखिए तस्वीरें

[ad_1]

दिल्ली से पीड़िता का शव रात्र 9.10 बजे उन्नाव स्थित उसके गांव पहुंचा। शव पहुंचते ही गांव में कोहराम मच गया। भारी भीड़ के बीच फफकते हुए पीड़िता के भाई औऱ परिजनों ने जैसे ही एंबुलेंस से शव बाहर निकाला चीत्कार मच गई।

पीड़िता को दुष्कर्म के आरोपियों समेत पांच लोगों द्वारा जला दिया गया था जब वो कोर्ट की सुनवाई के लिए ररायबरेली जा रही थी। 90 फीसदी जल जाने के कारण पीड़िता की दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में शुक्रवार रात मौत हो गई थी।

पीड़िता का शव देखकर परिवार की औरतें रो पड़ी और एक-दूसरे को गले लगाकार लोग ढांढस बंधाते नजर आए।

परिजनों में भारी गम और गुस्से को देखते हुए पुलिस मौजूद रही। उधर, क्षेत्र में चर्चा है कि सूर्यास्त के बाद गांव में कभी किसी का अंतिम संस्कार नहीं किया गया है, इसलिए उन्नाव की बेटी की विधि-विधान से अंतिम क्रिया करेंगे।

उन्नाव सामूहिक बलात्कार पीड़िता की दुखद मौत से पूरे देश में आक्रोश उत्पन्न हो गया है और इसके खिलाफ शनिवार को देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन हुए। पीड़िता के परिवार ने मांग की कि आरोपियों को हैदराबाद घटना की तरह ”दौड़ा कर मार दिया जाए।