चाय के शौकिनों के लिए आज हम एक बेहद फायदेमंद चीज बताने जा रहे हैं। चाय एक ऐसी चीज है जिसे हर कोई पसंद करता है। लेकिन, हम सभी चाय को लेकर एक बहुत बड़ी गलती भी करते हैं। लगभग सभी लोगों की आदत होती है कि वो कप में छानने के बाद चायपत्ती को कूड़े में फेंक देते हैं। लेकिन, ये बात बहुत कम लोगों का मालूम है कि एकबार इस्तेमाल हो चुकी चायपत्ती को दोबारा कई कामों के लिए भी प्रयोग किया जा सकता है। तो आइये जानते हैं कि चायपत्ती को फेंकने के बजाय इसका दोबारा इस्तेमाल किन किन कामों के लिए किया जा सकता है। ऐसे कर सकते है चायपत्ती का दोबारा उपयोग सबसे पहले तो चाय बनाने के बाद बची हुई चायपत्ती को फेंकने के बजाय इसे अच्छी तरह से साफ कर लें। चाय पत्ती को ऐसे साफ करें की इसमे से चीनी का मीठापन निकल जाये। फिर आप इस चाय पत्ती को अलग अलग कामों के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। सबसे पहला फायदा ये है कि आप बची ही चाय की पत्ती को पूरी तरह से साफ करने के बाद नेचुरल कंडीशनर के रुप में इस्तेमाल कर सकते हैं। नेचुरल कंडीशनर के रुप में चाय का इस्तेमाल करने के लिए चाय पत्ती को एक बार पानी में फिर से पानी में उबाले और इसके बाद उस पानी से अपने बालों को धोएं। बची हुई चाय पत्ती का दूसरा इस्तेमाल आप घर के बर्तन साफ़ करने के लिए कर सकते हैं। इसके लिए आपको चाय पत्ती को अपने बर्तन धोने वाले पाउडर में मिलाना होगा। इससे घर के सारे बर्तन में चमक आयेगी और सफ़ाई अच्छी होगी। जिस चाय पत्ती को आप अभी तक कचरे में फेंक रहे थे, उसे आप खाद के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं। यह पौधों के लिए बेहद उपयोगी खाद का काम करती है। ये हैं बची हुई चाय की पत्ती के अन्य फायदे चाय की पत्ती में ऐंटीऑक्सिडेंट होता है। जो चोट लगी होने पर काफी फायदेमंद है। इसके लिए चायपत्ती के पानी से अपने घाव को साफ करें। ऐसा करने से घाव जल्दी भरता है। चायपत्ती मक्खियों से छूटकारा दिलाने के भी काम आती है। अगर आप घर में बहुत ज्यादा मक्खियों से परेशान है तो आप बची हुई चाय पत्ती को एक बाल्टी में डालकर पूरे घर का पोछा लगाये। मक्खी से राहत मिलेगी।

चाय के शौकिनों के लिए आज हम एक बेहद फायदेमंद चीज बताने जा रहे हैं। चाय एक ऐसी चीज है जिसे हर कोई पसंद करता है। लेकिन, हम सभी चाय को लेकर एक बहुत बड़ी गलती भी करते हैं। लगभग सभी लोगों की आदत होती है कि वो कप में छानने के बाद चायपत्ती को कूड़े में फेंक देते हैं। लेकिन, ये बात बहुत कम लोगों का मालूम है कि एकबार इस्तेमाल हो चुकी चायपत्ती को दोबारा कई कामों के लिए भी प्रयोग किया जा सकता है। तो आइये जानते हैं कि चायपत्ती को फेंकने के बजाय इसका दोबारा इस्तेमाल किन किन कामों के लिए किया जा सकता है।

ऐसे कर सकते है चायपत्ती का दोबारा उपयोग

सबसे पहले तो चाय बनाने के बाद बची हुई चायपत्ती को फेंकने के बजाय इसे अच्छी तरह से साफ कर लें। चाय पत्ती को ऐसे साफ करें की इसमे से चीनी का मीठापन निकल जाये। फिर आप इस चाय पत्ती को अलग अलग कामों के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।

 सबसे पहला फायदा ये है कि आप बची ही चाय की पत्ती को पूरी तरह से साफ करने के बाद नेचुरल कंडीशनर के रुप में इस्तेमाल कर सकते हैं। नेचुरल कंडीशनर के रुप में चाय का इस्तेमाल करने के लिए चाय पत्ती को एक बार पानी में फिर से पानी में उबाले और इसके बाद उस पानी से अपने बालों को धोएं।

बची हुई चाय पत्ती का दूसरा इस्तेमाल आप घर के बर्तन साफ़ करने के लिए कर सकते हैं। इसके लिए आपको चाय पत्ती को अपने बर्तन धोने वाले पाउडर में मिलाना होगा। इससे घर के सारे बर्तन में चमक आयेगी और सफ़ाई अच्छी होगी।

जिस चाय पत्ती को आप अभी तक कचरे में फेंक रहे थे, उसे आप खाद के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं। यह पौधों के लिए बेहद उपयोगी खाद का काम करती है।

ये हैं बची हुई चाय की पत्ती के अन्य फायदे

चाय की पत्ती में ऐंटीऑक्सिडेंट होता है। जो चोट लगी होने पर काफी फायदेमंद है। इसके लिए चायपत्ती के पानी से अपने घाव को साफ करें। ऐसा करने से घाव जल्दी भरता है।

चायपत्ती मक्खियों से छूटकारा दिलाने के भी काम आती है।  अगर आप घर में बहुत ज्यादा मक्खियों से परेशान है तो आप बची हुई चाय पत्ती को एक बाल्टी में डालकर पूरे घर का पोछा लगाये। मक्खी से राहत मिलेगी।

maalaxmi