नवरात्री में करें माँ दुर्गा के नौ रूपों की पूजा घर में आएगी शांति

0नवरात्री में नौ दिन माँ दुर्गा के नौ रूपों की पूजा होती है। माँ दुर्गा के पूजन तथा दर्शन से दुखों का नाश तथा सुख की प्राप्ति होती है।

प्रथमं शैलपुत्री च द्वितीयं ब्रह्मचारिणी। तृतीयं चंद्रघंटा च कूष्माण्डेति चतुर्थकम्। पंचमम् स्कन्दमातेति, षष्टं कात्यायिनी च। सप्तम् कालरात्रि , महागौरी चाष्टम। नवम् सिद्धिदात्री च नवदुर्गा: प्रकीर्तिता:।।

नवरात्री के पहले दिन माँ शैलपुत्री का पूजन किया जाता है।

दूसरे दिन माँ ब्रह्मचारिणी की पूजा की जाती है।

तीसरे दिन माँ चंद्रघंटा की पूजा की जाती है।

चौथे दिन माँ कुष्मांडा की पूजा की जाती है।

पाँचवे दिन स्कंदमाता की पूजा की जाती है।

छठे दिन माँ कात्यायिनी की पूजा की जाती है।

सातवें दिन माँ कालरात्रि की पूजा की जाती है। इस रूप में माँ शत्रुओं का विनाश करती है।

आठवें दिन महागौरी माँ की पूजा -अर्चना की जाती है।

नवरात्री के नौवें दिन माँ सिद्धिदात्री की पूजा-अर्चना की जाती है। यह माँ का नौवा स्वरुप है। इस रूप में माँ भक्तो को सर्व सिद्धि प्रदान करती है। इस प्रकार नवरात्री में माँ द

maalaxmi