लेदर टेक्नोलॉजी में हैं रोज़गार के शानदार अवसर, हाथ से न जाने द

भारत में चमड़े का कारोबार सदियों से चला आ रहा हैं। चमड़ा यानि कि लेदर जिसके उत्‍पाद हमारे देश से दूसरे देशों में निर्यात भी होते हैं।

सभी लोग लेदर का उपयोग किसी न किसी रूप में करते हैं क्‍योंकि इसकी क्‍वॉलिटी बहुत अच्‍छी मानी जाती है। लेदर से बनी वस्‍तुओं की पूरी दुनिया में भारी डिमांड है। इसलिए इस क्षेत्र में कैरियर बनाने के भरपूर मौके मौजूद हैं।

लेदर इंडस्‍ट्री में बना सकते हैं कैरियर :

भारत में बने लेदर के उत्‍पादों की मांग विदेशों में बढ़ने के कारण युवाओं का रुझान लेदर टैक्‍नोलॉजी और इंडस्‍ट्री की ओर बहुत तेजी से बढ़ रहा है।

युवाओं के लिए लेदर टैक्‍नोलॉजी में कैरियर बनाने और बेहतररोज़गार पाने का एक अच्‍छा विकल्‍प है। क्‍योंकि विदेशों में भारत में बने लेदर के उत्‍पादों की बढ़ती मांग के कारण इस क्षेत्र में नौकरियों की संख्‍या में काफी इज़ाफा हुआ हैं।

लेदर टैक्‍नोलॉजी के क्षेत्र में उतरने से पहले यह जानना बहुत ज़रूरी है कि लेदर टेक्‍नोलॉजी वह शाखा होती है, जिसमें चमड़े से बनें उत्‍पाद व उन उत्‍पादों से अन्‍य कार्य जुड़े होते हैं।

जानकारी के मुताबिक अगले कुछ सालों में इस क्षेत्र में करीब 60 से 65 लाख नए रोज़गारों के लिए आकर्षक अवसर प्राप्‍त सकते हैं।

लेदर इंडस्‍ट्री में आप 2 क्षेत्रों यानि तकनीकी और डिज़ाइनिंग में कैरियर बना सकते हैं। जिसमें आप शुरूआात में 20 से 30 हज़ार रूपए और सालाना पैकेज में 2 से 6 लाख रुपए आसानी से कमा सकते हैं।

जाने लेदर टैक्‍नोलॉजी के लिए शैक्षणिक योग्‍यता :

लेदर टैक्‍नोलॉजी में कैरियर बनाने के लिए आपको सबसे पहले आपको 12वीं में फिजि़क्‍स, केमिस्‍ट्री और मेथमैटिक्‍स से पास होना ज़रूरी है।

इसके अलावा इस क्षेत्र में जुड़ने के लिए 12वीं के बाद लेदर टेक्‍नोलॉजी के पाठयक्रमों में ग्रेजुएशन या पोस्‍ट ग्रेजुएशन करना होगा। तभी आप इस क्षेत्र में आ सकते हैं।

लेदर टैक्‍नोलॉजी में रोज़गार की संभावनाएं इतनी बढ़ गई हैं कि आप किसी भी अच्‍छे संस्‍थान से कोर्स करके बेहतर नौकरी पा सकते हैं और आपका भविष्‍य उज्‍जवल हो सकता है।

maalaxmi