शशि थरूर की मांग, कहा- फ़ारूक़ अब्दुल्ला को मिले संसद सत्र में हिस्सा लेने की अनुमति

[ad_1]

कांग्रेस के दिग्गज नेता शशि थरूर ने नेशनल कॉन्फ्रेंस के चीफ और जम्मू कश्मीर के पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्ला को संसद सत्र में हिस्सा लेने के लिए अनुमति देने की मांग की है. हकीकत में, जम्मू कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा छीने जाने के बाद से ही घाटी के सभी मुख्य नेता नजरबंद हैं.

शशि थरूर ने यह अपील नेशनल कॉन्फ्रेंस की तरफ से केंद्र सरकार से सभी मुख्य नेताओं पर लगी रोक हटाने की अपील के बीच किया है. शशि थरूर ने फारूक अब्दुल्ला के एक पत्र को ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘कैद फारूक साहब का पत्र है. संसद सदस्यों को संसद सत्र में हिस्सा लेने की इजाजत दी जानी चाहिए क्योंकि उन्हें इस मामले में संसदीय विशेषाधिकार प्राप्त है. अन्यथा गिरफ्तारी का उपयोग विपक्षी आवाज़ों को दबाने के लिए किया जा सकता है. संसद में भागीदारी लोकतंत्र और लोकप्रिय संप्रभुता के लिए जरूरी है.’

असल में, फारूक अब्दुल्ला ने शशि थरूर को पत्र लिखते हुए आभार व्यक्त किया है. घाटी के पूर्व सीएम ने यह पत्र सब-जेल, 40 गुपकर रोड श्रीनगर के पते से लिखा है. शशि थरूर का आभार व्यक्त करते हुए फारूक अब्दुल्ला ने लिखा कि, आपका पत्र आज मुझे मजिस्ट्रेट के हाथों मिला. यह सबसे दुर्भाग्यपूर्ण बात है कि वे मेरा डाक भी वक़्त से पहुंचा पाने में सक्षम नहीं हैं. एक वरिष्ठ सांसद और पार्टी नेता के साथ इस प्रकार का बर्ताव करने का यह कोई तरीका नहीं है. हम अपराधी नहीं हैं.

maalaxmi