Wednesday, June 29

सरकारी संपत्तियां बेचकर पाकिस्तान को बदहाली से उबारेंगे प्रधानमंत्री इमरान खान

[ad_1]

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा देश को आर्थिक संकट से उबारने के लिए पीएमओ में खड़ी कार और भैंसों की नीलामी से शुरू हुआ अभियान अब देश की बहुमूल्य लेकिन बेकार पड़ी संपत्तियों के बेचने तक पहुंच गया है। उनकी सरकार ने अब विदेशी और पाकिस्तानी निवेशकों को आकर्षित करने के लिए सरकारी बेकार पड़ी संपत्ति बेचने का फैसला किया है।
डॉन अखबार में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक इमरान सरकार की योजना इस कवायद के बीच देश में नकदी संकट से निपटने की है। पीएम इमरान के हवाले से अखबार ने लिखा है कि दुर्भाग्य से पिछली सरकारों ने लापरवाही के चलते इन बहुमूल्य संपत्तियों का सही इस्तेमाल किया ही नहीं था। उन्होंने कहा कि अरबों रुपये की संपत्ति होने के बावजूद, केंद्र के विभिन्न सरकारी संस्थान हर साल अरबों रुपयों के घाटे में हैं। 

इस कवायद में बाधा नहीं पहुंचे इसके लिए इमरान ने चेतावनी दी की गैर इस्तेमाल वाली इन सरकार संपत्तियों की पहचान के काम में रोड़ा बनने वाले अधिकारियों को बख्शा नहीं जाएगा। बता दें कि आर्थिक बदहाली से उबारने को आइएमएफ ने इसी साल जुलाई में पाक को छह अरब डॉलर का कर्ज दिया था। इसके अलावा पाकिस्तान ने चीन और सऊदी अरब जैसे देशों से भी अरबों डॉलर का कर्ज ले रखा है।

दुबई एक्सपो में बेची जाएंगी संपत्तियां

पाकिस्तानी अखबार डॉन ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि इन संपत्तियों को दुबई एक्सपो में बेचा जाएगा और इससे मिली रकम को शिक्षा, स्वास्थ्य, भोजन और आवास से संबंधित लोक कल्याणकारी योजनाओं पर खर्च किया जाएगा। देश के निजीकरण सचिव रिजवान मलिक ने कहा कि इन अप्रयुक्त राज्य संपत्तियों का इस्तेमाल निवेशकों को आकर्षित करने के लिए किया जाएगा।