Wednesday, June 29

2012 Nirbhaya केस पर बड़ा खुलासा, सभी आरोपियों को…..

[ad_1]

2012 में हुए वसंत विहार सामूहिक दुष्कर्म केस में फांसी की सजा पाए निर्भया के गुनहगार विनय शर्मा की दया याचिका उपराज्यपाल अनिल बैजल ने खारिज कर दी है। विनय शर्मा की फाइल दिल्ली सरकार ने एलजी बैजल के पास भेजी थी। विधानसभा सत्र के दौरान सदन में सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि गत 5 नवंबर को एक दोषी ने दया याचिका दी थी। इस पर राष्ट्रपति ने हमसे विचार मांगा था।

दिल्ली सरकार ने रविवार को दया याचिका खारिज करने की रिपोर्ट दे दी। सोमवार को उपराज्यपाल की भी अनुमति आ गई है। उन्होंने ने भी इस दया याचिका को खारिज करने की सिफारिश पर मुहर लगा दी। अब दिल्ली सरकार इस फाइल को राष्ट्रपति को भेजेगी। इस पर आखिरी फैसला राष्ट्रपति को लेना है। उधर, विधानसभा सदन में नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने कहा कि उपराज्यपाल ने दया याचिका रद करने में एक दिन भी नहीं लगाया। जबकि दिल्ली सरकार ने यह फाइल कई दिनों तक रोक कर रखी।

स्वाति मालीवाल ने लिखा राष्ट्रपति को पत्र-



वहीं दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिखकर विनय शर्मा की दया दायिका खारिज करने की मां की है। उन्होंने कहा है कि ऐसे अपराध को बर्दास्त नहीं किया जा सकता है।