जानिए, कैसे 50 रुपए ने बदल दी रोहित शर्मा की जिंदगी

जानिए, कैसे 50 रुपए ने बदल दी रोहित शर्मा की जिंदगी

रोहित शर्मा ने एकदिवसीय मैच में दोहरा शतक बनाया था, जिसके कारण वह चर्चा में हैं। रोहित बहुत प्रतिभाशाली खेल खेलते हैं जिसके कारण उन्होंने अपने करियर में बहुत कुछ हासिल किया है। आपको बता दें कि कई वर्ष पूर्व जब रोहित के पिता की नौकरी चली गई थी तो उनके परिवार को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था।

 

रोहित के परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी, इसलिए उनके चाचा ने क्रिकेट अकादमी में 50 रुपये का योगदान देने का फैसला लिया ताकि रोहित नामांकन करा सके। रोहित के कोच दिनेश लाड ने उन्हें एक अलग स्कूल में जाने के लिए कहा और रोहित का भाग्य अच्छा थे, उन्हें छात्रवृत्ति मिली।

 

रोहित शर्मा के पिता का नाम गुरु नाथ शर्मा है, वह एक ट्रांसपोर्ट कंपनी में कार्यरत थे। उनकी मां पूर्णिमा शर्मा एक गृहिणी हैं। हालांकि रोहित शर्मा का पालन-पोषण उनके दादा-दादी द्वारा हुआ। जब वे बहुत छोटे थे, तब उन्हें स्थानीय क्लब के साथ क्रिकेट खेलने का मौका मिला।

 

रोहित शर्मा ने बचपन से ही क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था। उनके कोच दिनेश लाड ने उन्हें खेल सिखाया और अंडर -12 क्रिकेट टूर्नामेंट में खेलने का मौका दिलाने में उनकी मदद की। वहीं से रोहित ने भारतीय क्रिकेट टीम बनाने के लिए कड़ी मेहनत की। उन्होंने हर दिन अपने कौशल पर कड़ी मेहनत करके ऐसा करना जारी रखा है।

 

रोहित शर्मा एक बहुत अच्छे क्रिकेट खिलाड़ी हैं। उनके पास कार कलेक्शन और मुंबई में एक फ्लैट है। उनके कार कलेक्शन में 1.40 करोड़ की बीएमडब्ल्यू एम5 शामिल है और उनका फ्लैट मुंबई की एक बिल्डिंग में 29वें फ्लोर पर है। यह 5700 वर्ग फुट का है और इसमें चार बेडरूम हैं।

 

रोहित शर्मा के परिवार में उनके पिता, गुरु नाथ शर्मा और माता पूर्णिमा शर्मा शामिल हैं। उनका एक भाई भी है जिसका नाम विशाल शर्मा है। रोहित शर्मा की 13 दिसंबर, 2015 को ऋतिका सजदेह से शादी हुई। उनकी एक बेटी है जिसका नाम समीरा शर्मा है, जिसका जन्म 30 दिसंबर, 2018 को हुआ था। रोहित शर्मा की पत्नी ऋतिका एक स्पोर्ट्स मैनेजर हैं।

navneet