यह क्या बोल गयीं नुसरत जहां, “मैं मुस्लिम और यश हिंदू है”, लेकिन हमारा बेटा….

यह क्या बोल गयीं नुसरत जहां, “मैं मुस्लिम और यश हिंदू है”, लेकिन हमारा बेटा….

मुंबई, 02 फरवरी। तृणमूल कांग्रेस की सांसद और बंगाली फिल्म अभिनेत्री नुसरत जहां की शादी और उनके बच्चे को लेकर अक्सर चर्चा होती है। लेकिन अब उन्होंने इन बातों पर खुलकर बात की है और बताया है कि आखिर उनके बच्चे का पिता कौन है। इंडिया टुडे को दिए इंटरव्यू में नुसरत जहां ने यश दासगुप्ता के साथ अपने रिश्तों को लेकर भी बात की है और कहा कि यिशान भारत में एक आदर्श सेक्युलर नागरिक की तरह बड़ा होगा।

जिस तरह से सोशल मीडिया पर नुसरत जहां को ट्रोल किया जाता है उसको लेकर नुसरत ने कहा कि मैं खुद को पीड़िता नहीं कहना चाहती हूं क्योंकि आप जितना ही खुद को पीड़ित महसूस करेंगी आप उतना ही इसमे घुसती जाएंगी। जब नुसरत से उनके स्टाइलिश फैशन के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि हमारे पास हमेशा एक स्टाइलिस्ट होता है जब हम पब्लिक लाइफ में होते हैं, लेकिन जब हर रोज स्टाइलिश होने की बात हो तो मैं स्टाइल से ज्यादा आराम को तवज्जो देती हूं। मैं अपनी स्वेटशर्ट में ज्यादा खुश हूं।

ऐसा कोई खास स्टाइल नहीं है जिसे मैं अपनाती हूं, मैं जो भी ट्रेंड के पीछे भी नहीं भागती हूं। मेरी डेनिम, टी शर्ट, मसलिन साड़ी मेरे लिए काफी है। मुझे हमेशा टाई-डाई वाले कपड़े पसंद रहे हैं, तब भी जब वे इतने चलन में नहीं थे। यह बहुत रंग-बिरंगे लगते हैं, अच्छे लगते हैं।

नुसरत ने बताया कि मेरे पास सब्यसाची के काफी कपड़े हैं। मेरे पास सब्यसाची की साड़ी है, जिसे मैं दुर्गा पूजा के वक्त पहनती हूं। मैं कपड़े खुद के लिए खरीदती हूं नाकि लोगों को दिखाने के लिए। मुझे लगता है कि हर लड़की अपनी खुद की पसंद का डिजाइनर कपड़ा पहनना पसंद करती है।

नाना-नानी जो कपड़े देते हैं वो भी काफी पसंद होते हैं, वह पुराने विंटेज लुक की साड़ी-कुर्ती होती है। सब्यसाची भारत की संस्कृति को अपने डिजाइन के जरिए दिखाने की कोशिश करते हैं, जोकि मुझे काफी पसंद है।

यश दासगुप्ता के साथ अपने रिश्ते के बारे में नुसरत से जब पूछा गया कि क्या आपने यश से शादी की है तो उन्होंने कहा कि हमे फिर से शादी करने की जरूरत नहीं है। मैं मुस्लिम हूं, यश हिंदू है, मेरा बेटा दोनों ही धर्म को जानेगा। हव मानवता की सेवा करेगा। बतौर माता-पिता हम हमेश खुले दिमाग वाले रहे हैं।

हमारे घर में हम दिवाली, दुर्गा पूजा, ईद, क्रिसमस सभी त्योहार मनाते हैं। हमे लगता है कि हम सेक्युलर भारत के लिए यिशान के तौर पर एक अच्छा उदाहरण पेश कर सकते हैं। मेरा विश्वास है कि यिशान सेक्युलर इंडिया के लिए आदर्श नागरिक बनेगा। बता दें कि यिशान का जन्म अगस्त 2021 में हुआ था। यिशान के बर्थ सर्टिफिकेट पर यश दासगुप्ता का नाम बतौर पिता दर्ज है।

admin